User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive
जनवरी 2018 त्योहार----
 
2 मंगलवार पौष पूर्णिमा व्रत
 
5 शुक्रवार संकष्टी चतुर्थी
 
12 शुक्रवार षटतिला एकादशी
 
14 रविवार मकर संक्रांति, पोंगल, उत्तरायण , प्रदोष व्रत (कृष्ण)
 
15 सोमवार मासिक शिवरात्रि
 
16 मंगलवार पौष अमावस्या
 
22 सोमवार सरस्वती पूजा, बसंत पंचमी
 
28 रविवार जया एकादशी
 
29 सोमवार प्रदोष व्रत (शुक्ल)
 
31 बुधवार माघ पूर्णिमा व्रत
==================================================
 
वर्ष 2018 की शुभकामनाओं के साथ-साथ हम हाजिर आपके जनवरी 2018 के राशिफ़ल के साथ। जिसके माध्यम से आप जान पाएंगे कि जनवरी का महीना आपके लिए कैसा रहेगा। इसे जानकर आप अनुकूल समय का लाभ उठा पाएंगे और जो समय आपके लिए प्रतिकूल है उस समय सावधानी से काम लेकर परेशानियों से बच पाएंगे। तो आइए बात करते हैं इस माह के राशिफल की:---
 
मासिक राशिफल 1 जनवरी 2018 से 31 जनवरी 2018 तक---
===============================================================
 
मेष राशि (Aries) :– (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ) 
 
नववर्ष 2018 का पहला माह जनवरी कुछ शुरुआती परेशानी लेकर आयेगा, किन्तु जल्दी ही परिस्तिथिया सामान्य हो जायेंगी। मास में हानि एवं लाभ बना रहेगा। परिवार का पूर्ण सहयोग व सान्निध्य मिलेगा। विधार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता मिलेगी। कार्य व्यवसाय में व्यवधान आयेंगे। भूमि भवन का लाभ होगा। कार्य क्षेत्र में अधिक मेहनत की आवश्यकता पड़ेगी। ऋण लेने की स्तिथिया उत्पन्न होंगी। स्वास्थ्य का ध्यान रखे। शीत प्रकृति के रोग, बदन दर्द, कमर दर्द परेशान करेगा। जनवरी माह की 3, 12, 21 एवम 30 तारीखे नेष्ट फलदायक है, अत: आपको सावधान रहना चाहिए।
 
1-2 ता. कोई गलत दिशा कहीं अलझा सकती है । 3-4 ता. उच्चाकांक्षाऐं अथवा महत्वाकांक्षाऐं प्रभावित करेंगी। 5-6 ता. जिम्मेदारियों के प्रति सतर्क होंगे । 7-8 ता. अपनी ना चलाऐं नियम व संयम से रहें । 9-10 ता. सहयोगी की तलाश रहेगी । 11-12 ता. लेन-देन व स्वास्थ्य का ख्याल रखें । 13 से 15 ता. कार्य विस्तार पर जोर रहेगा । 16-17 ता. अपनों से शिकायत अथवा दाम्पत्य सुख में कमी भी प्रभावित कर सकती है । 18 से 20 ता. बौद्धिक कार्यों से सम्मान व उत्साह बढ़ेगा परन्तु वाद-विवाद से बचें । 21-22 ता. कर्म की प्रेरणा मिलेगी । 23 से 25 ता. पुरूषार्थ व आत्मबल प्रबल रहेगा । 26-27 ता. संभल कर रहना चाहिए । 28-29 ता. महत्वपूर्ण कार्य बलवती रहेंगे । 30-31 ता. बाधक भाव प्रभावित कर सकता है ।
 
उपाय--आप निरन्तर विष्णु भगवान की अराधना करें एवं ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय का नित्य जप करें। अथवा पिता या पिता तुल्य व्यक्ति की सेवा करें।
===================================================================================
वृषभ राशि (Taurus) ---उ, ई, ऐ, ओ,ई, उ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो बा, बी, बे, बो। 
 
इस माह कार्य क्षेत्र में कोर्इ महत्वपूर्ण कार्य पूर्ण होगा। समाज में मान प्रतिष्ठा बढ़ेगी। नवीन कार्य व्यवसाय स्थापित होगा। नजदीकी रिश्तों में अनावश्यक कड़वाहट आयेंगी। भूमि-भवन की प्राप्ति के योग। उच्चाधिकारियों की अनुकम्पा प्राप्त होगी। वाहनादि के प्रयोग में सावधानी बरतें। मासांत में आय के नये स्त्रोत विकसित होगी। जीवन साथी के स्वास्थ्य के कारण चिंतित रहेंगे। संतान से सुखद समाचार मिलेगा। यात्राओं की अधिकता रहेगीं। स्वास्थ्य नरम रहेगा। उदर विकार, सर्दी जुखाम रहेगा। मास की 1, 9, 18, 26 एवम 28 तारीखें नेष्ट फलदायक हैं, अत: आपको सावधान रहना चाहिए। 
 
1-2 ता. अस्थिरता सी व्याप्त रहेगी । 3-4 ता. नवीन योजनाओं के प्रति अधिक रहेंगे । 5-6 ता. कुछ अधिक कर पाना मुशकिल हो सकता है । 7-8 ता. जन-संपर्क बढ़ेगा परन्तु निवेश में सावधानी बरतें । 9-10 ता. सुख-सुविधाऐं प्रभावित करेंगी । 11-12 ता. ज्ञान-विज्ञान की वृद्धि के योग हैं । 13 से 15 ता. क्रोध से बचें । स्वास्थ्य का भी ख्याल रखें । 16-17 ता. नई योजनाऐं व प्रस्ताव उत्साहित रखेंगे । 18 से 20 ता. कोई चिन्ता अथवा बेचैनी सी महसूस हो सकती है । 21-22 ता. आकस्मिक घटनाऐं प्रभावित कर सकती हैं । 23 से 25 ता. योजनाओं व जिम्मेदारियों के चलते क्रोध ना करें और स्वास्थ्य का भी ख्याल रखें । 26-27 ता. बिगड़े काम बनाने पर बल रहेगा । 28-29 ता. अशांति अथवा नुकसान के आसार प्रभावित कर सकते हैं । 30-31 ता. सूझ-बूझ अथवा सलाह-मशविरा के उपरान्त ही कोई निर्णय लें ।
 
उपाय--आप गणेश जी की अराधना करें एवम ऊँ गं गणपतये नम: का नित्य जप करें। परेशानी की स्थिति में सिंदूर मिले जल से सूर्य को अर्घ दें।
=====================================================================
मिथुन राशि (Gemini) :- (क, की, कु, घ, ड़, छ, के, को, ह)
 
इस जनवरी माह में नवीन कार्य व्यवसाय की योजनाएं बनेंगी। मांगलिक कार्यो में व्यय होगा। निकट सम्बन्धियों से विवाद की स्तिथिया आयेंगी। उत्तरार्द्ध में कार्य व्यवसाय में परेशानियाँ आयेंगी। वाहन प्राप्ति का योग। विदेश यात्रा सम्भव। जीवन साथी का सहयोग व सान्निध्य मिलेगा। इस माह बड़ा व्यावसायिक निर्णय लेना हितकर नहीं होगा। मित्रवर्ग के सहयोग से कार्यक्षेत्र में उन्नति होगी। मासांत में लोकप्रियता का ग्राफ भी बढ़ेगा। स्वास्थ सामान्यत: ठीक रहेगा। जनवरी माह की 3, 12, 24 एवम 27 तारीखे नेष्ट फलदायक है, अत: आपको सावधान रहना चाहिए।
 
1-2 ता. क्रोध से बचें । स्वास्थ्य का भी ख्याल रखें । 3-4 ता. संतुलन व संयम बनाये रखें । 5-6 ता. संभावनाऐं बलवती होंगी । 7-8 ता. वाणी पर कंट्रोल रखें । 9-10 ता. किसी व्यवस्था से असहमत हो सकते हैं । 11-12 ता. मतभेद अथवा सुख में कमी बनी रहेगी । 13 से 15 ता. शुभ आयोजनों की संभावना बलवती होगी। 16-17 ता. कर्ज, स्वास्थ्य अथवा विरोधियों की चिन्ता प्रभावित कर सकती है । 18 से 20 ता. कुछ दाम्पत्य सुख संबंधी चिन्ताओं को छोड़कर समान्यतः अच्छी ही रहेंगी । 21-22 ता. मित्रता अथवा अपनत्व की भावना आहत हो सकती है । 23 से 25 ता. साधन व समाधान के प्रति तत्पर रहेंगे । 26-27 ता. मेहनत व संघर्ष का सितारा बुलंद रहेगा । 28-29 ता. शुभ अथवा लाभ के प्रसंग उत्साहित करेंगे । 30-31 ता. व्यर्थ चक्करों में ना पड़ें ।
 
उपाय--आप विष्णु भगवान की अराधना करें एवं ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय का नित्य जप करें |विष्णु भगवाने के मंदिर में संतरे दान करना शुभ रहेगा।
===================================================================
कर्क राशि (Cancer) :- (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) 
 
 
इस माह कार्य क्षेत्र में प्रगति होगी। परिवार व मित्रजनो का भरपूर सहयोग मिलेगा। जीवन साथी के स्वास्थ्य को लेकर चिन्तित होंगे। विधार्थी वर्ग को प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलेगी। इस माह बारम्बार भाग्योदयकारी घटनाऐ आयेंगी। स्थान परिवर्तन सम्भव। शासन सत्ता से सहयोग मिलेगा। उच्चाधिकारियों के सहयोग से कार्यो में सफलता मिलेगी। राजनीतिक लोगो से सम्पर्क बढ़ेगा। किसी धार्मिक आयोजन में शामिल होने का अवसर मिलेगा। माह में लिये गये उच्च कोटि के व्यावसायिक निर्णय भविष्य में लाभकारी सिद्ध होंगे। उदर विकार या पाचन संस्थान सम्बन्धी विकारों से आपको सावधान रहन चाहिए ।
 
1-2 ता. मेहनत व संघर्ष का सितारा बुलंद रहेगा । 3-4 ता. योजनाऐं व संभावनाऐं उत्साहित रखेंगी । 5-6 ता. बहकावे और भड़कावे से अवश्य बचें । 7-8 ता. समान्य फलदायक हैं । 9-10 ता. सद्बुद्धि व सन्मार्ग काम आ सकता है । 11-12 ता. लेन-देन व स्वास्थ्य में सावधानी बरतें । 13 से 15 ता. व्यर्थ भावुकता अथवा अचानक उत्तेजना से बचें । 16-17 ता. श्रेष्ठत्व का बोध होगा । 18 से 20 ता. सहयोगियों और कुटुब से विवाद अथवा कटुता प्रभावित कर सकती है । 21-22 ता. कुछ सुधार होगा परन्तु अनुशान आवश्यक है । 23 से 25 ता. कुछ पुराने मामले उलझाऐ रखेंगे । 26-27 ता. सुधार होगा । 28-29 ता. किसी नये काम के शुरूआत की योजना उत्साहित करेगी । 30-31 ता. मिश्रित फलदायक हैं ।
 
उपाय-- आप भगवान् गणेश जी की अराधना करें एवम ऊँ गं गणपतये नम: का नित्य जप करें। इसके साथ साथ सूर्य भगवान को जल देना शुभ रहेगा।
===========================================================================
 
सिंह राशि (Leo) :- (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)
 
इस माह धन का आवागमन अच्छा एवम धन की स्थिरता रहेगी। भूमि भवन संबंधी कोर्इ विवाद उत्पन्न होगा। मास में कर्इ बार टकराव की स्तिथिया आयेंगी। वरिष्ठ अधिकारियों से संबंध मधुर बनेंगे। राजकीय कार्यो में लाभ होगा। संतान की तरफ से सुखद समाचार मिलेगा। माता के स्वास्थ्य के कारण चिंतित रहेगे। आपकी योजना, प्रतिबद्धता आपको सफलता दिलायेगी। उत्तरार्द्ध में जैसे भाग्य आपका इंतजार कर रहा होगा। वायु विकार एवम त्वचा रोग के कारण स्वास्थ्य प्रभावित रहेगा। मासांत में हाताशा की भावना से गुजरेंगे। जनवरी माह की 5, 14, 22 एवम 24 तारीखें नेष्ट फलदायक है, अत: सावधान रहना चाहिए।
 
1-2 ता. व्यवहार में सुधार करें । 3-4 ता. कर्म की प्रेरणा मिलेगी । 5-6 ता. भावुकता से बचें । 7-8 ता. अध्ययन, मनन व बौद्धिक गतिविधियों में रुचि लेंगे । 9-10 ता. लेन-देन और वाद-विवाद के कारण तनाव ना होने दें। 11-12 ता. वाणी पर कंट्रोल रखें । अफवाहों से भी बचें । 13 से 15 ता. सुधार वाली हैं। बिगड़ी बात बनाने पर जोर रहेगा । 16-17 सुख-समृद्धि के योग उत्साहित रखेंगे । 18 से 20 ता. बौद्धिक व भावनात्मक गतिविधियाँ बलवती रहेंगी। 21-22 ता. प्रतिकूलता महसूस होगी । 23 से 25 ता. उन्नती व ज्ञान-वर्द्धन के उपाय होंगे । 26-27 ता. संभल कर रहना चाहिए । 28-29 ता. स्वंय पर काबू और स्वास्थ्य का ख्याल रखें । 30-31 ता. समान्य फलदायक हैं ।
 
उपाय--आप सूर्य की अराधना करें एवम ऊँ घृणि: सूर्याय नम: का नित्य जप करें। अधिक परेशानी की स्थिति में कुमकुम/सिंदूर मिले जल से सूर्य को अर्घ दें।
============================================================================
कन्या राशि (Virgo) :- (टो, प, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो,)
 
इस माह नवीन योजनाएँ बनेंगी एवम सफलतापूर्वक क्रियान्वित भी होंगी। भूमि-भवन का लाभ होगा। परिवार में मागंलिक कार्यो का आयोजन होगा। किन्ही कारणवश जमा पूंजी व्यय करनी पड़ेगी। आर्थिक स्तिथिया अनुकूल न होने से क्लेश होगा। उत्तरार्द्ध में स्तिथियों में आंशिक सुधार दिखेगा। अत्यधिक परिश्रम उपरांत भी मनवांछित सफलता नहीं मिलेगी। शत्रु पक्ष से हानि संभव, परिवार व जीवनसाथी का सम्पूर्ण सहयोग मिलेगा। शिर:शूल एवम शारीरिक पीड़ा, पिण्डलियों में दर्द से स्वास्थ्य प्रभावित होगा। जनवरी मास की 1, 11, 19, 28 एवम 30 तारीखें नेष्ट फलदायक है, अत: सावधान रहना चाहिए। 
 
1-2 ता. स्वयं पर काबू रखना चाहिए । 3-4 ता. भाग्यवृद्धि के उपाय होंगे । 5-6 ता. परिश्रमपूर्ण चेष्टाओं के अच्छे परिणाम होंगे । 7-8 ता. पुरानी यादें प्रभावित कर सकती हैं । 9-10 ता. योजनाऐं व संभावनाऐं बलवती रहेंगी । 11-12 ता. बिगड़े काम बनाने पर जोर रहेगा । 13 से 15 ता. जरूरी कार्यों में सतर्कता रखें । 16-17 ता. समाचारों व विचारों का अदान-प्रदान उत्साह जनक रहेगा । 18 से 20 ता. संतोष, आनंद अथवा सुख-सुविधादि में कमी महसूस हो सकती है । 21-22 ता. समझदारी काम आ सकती है । 23 से 25 ता. डर, चिन्ता अथवा भय सा रहे । 26-27 ता. मिलन, चर्चा व जानकारियाँ उत्साह जनक रहेंगी । 28-29 ता. सावधानी व संयम रखना चाहिए । 30-31 ता. मिश्रित फलदायक है ।
 
उपाय--आप शिवजी की अराधना करें एवम ऊँ नम: शिवाय का नित्य जप करें। अधिक कष्ट या परेशानी होने की स्थिति में कन्याओं को भोजन करवाना शुभ रहेगा।
=====================================================================
तुला राशि (Libra) :- (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)
 
 
इस माह कार्य व्यवसाय में वृद्धि होगी। वाद-विवाद की स्तिथियों में वृद्धि होगी। जीवन साथी व परिवार के कारण चिंतित रहेंगे। कोर्ट कचहरी के चक्कर काटने पड़ सकते हैं। न्यायालयी कार्यो में विजयश्री मिलेगी। वाहन चलाने में सावधानी बरतें। उत्तरार्द्ध में आय के नये स्त्रोत जुड़ेगे। यात्राओं की अधिकता रहेगी। सहयोगी की राय न मानने से कार्यक्षेत्र प्रभावित होगा। उच्चाधिकारियों से अनावश्यक वाद-विवाद, कलह उत्पन्न होगा। मासांत में किसी नयी कार्य योजना पर कार्य करेंगे। स्वास्थ्य सामान्यत: ठीक रहेगा। जनवरी माह की 6, 15, 25 एवम 26 तारीखे नेष्ट फलदायक है, अत: आपको सावधान रहना चाहिए। 
 
1-2 ता. आकांक्षाओं व जरूरतों के प्रति रहेंगे । 3-4 ता. बहकावे अथवा भड़कावे से बचें । 5-6 ता. सद्बुद्धि व सद्विचार काम आ सकते हैं । 7-8 ता. मेहनत व संघर्ष का सितारा बुलंद होगा । 9-10 ता. किसी कार्य की सफलता के प्रति उत्साहित रहेंगे । 11-12 ता. धन, जानकारी व अधिकारों के लिए भी संघर्ष करना होगा । 13 से 15 ता. दूसरों के प्रति तत्पर होंगे । 16-17 ता. अपनों की चिन्ता व विचारों में उतार-चढ़ाव रहेगा । 18 से 20 ता. सुधार व तरक्की के उपाय बलवती रहेंगे । 21-22 ता. काम अधूरे ना छोड़ें। 23 से 25 ता. शुभ कार्यों से सक्रिय रहें । 26-27 ता. व्यवहार को ठीक रखें । व्यर्थ ना सोचें । 28-29 ता. सुखकारी प्रसंग उत्साह जनक रहें । 30-31 ता. धन व समय की व्यर्थता से बचें ।
 
उपाय-- इस माह आप शनि की अराधना करें एवम ऊँ शं शन्नैश्चराय नम: का नित्य जप करें। हनुमान जी को चोला चढ़ाएं,शुगर लाभ होगा|
=====================================================================
वृश्चिक राशि (Scorpio) :- (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)
 
इस माह सामाजिक मान प्रतिष्ठा में कमी आयेगी। राजकीय कार्यो में बाधायें उत्पन्न होंगी। शत्रुपक्ष हानि पहुँचाने की चेष्टा करेगा। ऋण लेने की आवश्यकता पड़ेगी। मांगलिक कार्यो में शामिल होने का अवसर मिलेगा। अत्यधिक परिश्रम उपरांत भी अनुकूल सफलता नहीं मिल पायेगी। जीवनसाथी से विवाद की स्तिथिया आयेंगी। परिवार के किसी सदस्य के स्वास्थ्य के कारण चिन्तित रहेंगे। उत्तरार्द्ध से कार्य क्षेत्र में धीरे-धीरे वृद्धि एवं सफलता प्राप्त होगी। अनियमित दिनचर्या के कारण स्वास्थ्य प्रभावित रहेगा। जनवरी माह की 3, 13, 22 एवम 23 तारीखे नेष्ट फलदायक है, अत: आपको सावधान रहना चाहिए।
 
1-2 ता. किसी उपलब्धि के संबंध में बेचैनी सी रहेगी । 3-4 ता. उतार-चढ़ाव की सी स्थिति रहेगी । 5-6 ता. जल्दबाजी में निर्णय ना लें । 7-8 ता. साधन व सहयोग काम आ सकता है । 9-10 ता. कामकाज को बल मिलेगा। 11-12 ता. समान्यतः अच्छी ही रहेंगी । 13 से 15 ता. अधिकारों के लिए संघर्ष रहेगा । 16-17 ता. किसी कार्य विशेष के प्रति रहेंगे परन्तु क्रोध और व्यर्थ खर्च से अवश्य बचें । 18 से 20 ता. वाणी पर लगाम रखें । गोपनियता भंग ना करें । 21-22 ता. नई दिशा मिलेगी । 23 से 25 ता. सुख-सुविधाऐं प्रभावित करेंगी । 26-27 ता. व्यवहार में सावधानी रखें । 28-29 ता. असावधानी से कुछ नुकसान के आसार हैं । 30-31 ता. महत्वपूर्ण कार्य उत्साहित रखेंगे ।
 
उपाय-- इस माह आप शिवजी की अराधना करें एवम ऊँ नम: शिवाय का नित्य जप करें। अधिक परेशानी की स्थिति में शिव जी के मंदिर लाल रंग का फ़ल या सब्जी दान करना शुभ रहेगा।
=========================================================================
धनु राशि (Sagittarius) :- (ये, यो, भ, भी, भू, ध, फा, ढा, भे)
 
इस माह समाज में मान प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। यदि आप बेरोजगार है तो रोजगार के अवसर सृजित होंगे। कार्य क्षेत्र में किया गया श्रम सार्थक सिद्ध होगा। धार्मिक कार्यो का आयोजन होगा। उत्तरार्द्ध में कार्य क्षेत्र में लापरवाही व अनियमितता के कारण कुछ हानि भी सम्भव है। स्वजनो से वाद - विवाद की स्तिथिया आयेंगी। पारिवारिक सहयोग व सान्निध्य मिलेगा। मित्रजनों से वातावरण कुछ दूषित रहेगा। बड़ा व्यावसायिक निर्णय लेना उचित नहीं कहा जा सकता। शीत प्रकृति के रोगो से स्वास्थ्य प्रभावित रहेगा। सार्वजनिक रुप से आप सम्मानित भी किये जायेंगे। जनवरी माह की 1, 11, 21 एवम 30 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: आपको सावधान रहना चाहिए।
 
1-2 ता. अध्ययन, लेखन व बौद्धिक गतिविधियों में रुचि रहेगी । 3-4 ता. कर्ज, स्वास्थ्य अथवा विरोधियों की चिन्ता प्रभावित कर सकती है । 5-6 ता. उपलब्धि अथवा परिणाम के विषय में रहेंगे । 7-8 ता. कुछ निर्णय से पहले सलाह-मशविरा अवश्य करें । 9-10 ता. भाग्य सुधार के उपाय होंगे । 11-12 ता. अपनों से बात बनेगी । 13 से 15 ता. अधूरे कार्य निबटाने को मन रहेगा । क्रोध से बचें । 16-17 ता. शंका, चिन्ता अथवा असमंजस की सी स्थिति प्रभावित कर सकती है । 18 से 20 ता. मिश्रित फलदायक हैं । 21-22 ता. परिश्रम और प्रयासरत रहें । 23 से 25 ता. निवेश में अवश्य सावधानी बरतें । 26-27 ता. धार्मिक, सामाजिक व मांगलिक कार्यक्रर्मों में रुचि रहेगी । 28-29 ता. ज्ञान-विज्ञान लाभ देगा । 30-31 ता. अपनी ना चलाऐं ।
 
उपाय-- इस माह आप विष्णु भगवान की अराधना करें एवं ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय का नित्य जप करें।इसके साथ साथ शिवलिंग पर शहद चढ़ाना शुभ रहेगा।
============================================================================
 
मकर राशि (Capricorn) :- (भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)
 
इस माह कार्य क्षेत्र में उन्नति होगी। धन लाभ की स्तिथिया बनी रहेगी। समाज में मान सम्मान की प्राप्ति होगी। शत्रुपक्ष आपको हानि नहीं पहुँचा पायेगा। संतान पक्ष से सुखद समाचार की प्राप्ति होगी। माता के स्वास्थ के कारण चिन्तित रहेंगे। अत्यधिक भागदौड़ भरा माह रहेगा। परिवार में धार्मिक कार्यो का आयोजन होगा। छोटे-छोटे व्यावसायिक निर्णय आगे चलकर लाभप्रद सिद्ध होंगे। उत्तरार्द्ध में कार्य सम्पन्नता की गति अत्यंत धीमी रहेगी। फिर भी सफलता का प्रतिशत अच्छा जायेगा। सर्दी जुकाम, श्वास की तकलीफो से गुजरना होगा। अन्य सामान्यत: ठीक रहेगा। 
 
1-2 ता. अराजकता अथवा अव्यवस्था का बोझ प्रभावित कर सकता है । 3-4 ता. अध्ययन व जानकारियाँ उत्साह जनक रहेंगी । 5-6 ता. संतुलन व संयम से रहना ही उचित होगा । 7-8 ता. बिगड़ी बात बनाने पर बल रहेगा। 9-10 ता. किसी निर्णय पर दवाब रहेगा । 11-12 ता. महत्वपूर्ण कार्य की व्यस्तता थका सकती है । 13 से 15 ता. सहयोग अथवा प्रसन्नता से लाभान्वित हो सकते हैं । 16-17 ता. शंका, डर अथवा व्यर्थ सोच विचार की सी स्थिति प्रभावित कर सकती है । 18 से 20 ता. संभल कर रहना चाहिये । 21-22 ता. मिश्रित फलदायक हैं । 23 से 25 ता. परिवारिक उत्थान व धनवृद्धि के कार्यक्रम उत्साहित रखेंगे । 26-27 ता. शुभ हैं । दैविय आस्थाओं को भी श्रेय देंगे । 28-29 ता. व्यर्थ भावुकता अथवा अचानक क्रोध से बचें । 30-31 ता. स्वयं पर भरोसा बढ़ेगा परन्तु अपनी ना चलाऐं ।
 
उपाय-- इस माह आप गणेश जी की अराधना करें एवम ऊँ गं गणपतये नम: का नित्य जप करें।उनके दूर्वा अर्पित अवश्य करें | इसके साथ साथ नित्य 11 बार गायत्री मंत्र का जप करें।
====================================================================
कुम्भ राशि (Aquarius) :- (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)
 
इस माह आर्थिक उपलब्धिया अच्छी रहेगी। समाज में मान-सम्मान में वृद्धि होगी। उच्चाधिकारियों से मनवांछित सहयोग मिलेगा। माह में आप कर्इ साहसिक निर्णय भी लेंगे। सार्वजनिक रुप से आप सम्मानित भी किये जायेंगे। यात्राओं की अधिकता रहेगी। वह छोटी व बड़ी दोनो प्रकार की होंगी। यह समय आपके कार्य स्थान एवं समाज में प्रतिष्ठा बढ़ाने वाला हैं। उतावली में किये गये कार्यो में प्रतिकूलता भी दिखेंगी। भूमि भवन में निवेश लाभप्रद रहेगा। मासांत में परेशानियों में वृद्धि होगी। भागदौड़ की अधिकता से स्वास्थ्य प्रभावित होगा। 
 
जनवरी माह की 11, 16, 22 एवम 30 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए।
 
1-2 ता. स्वयं पर काबू रखें । पछतावा हो सकता है। 3-4 ता. सुख-सुविधाओं में रुचि रहेगी । 5-6 ता. अध्ययन व जानकारियाँ उपलब्ध होंगी परन्तु स्वास्थ्य व लेन-देन में सावधानी अवश्य रखें । 7-8 ता. कुछ अधिक कर पाना कठिन हो सकता है । 9-10 ता. शुभ कार्यों में मन रहेगा । 11-12 ता. परिस्थितियाँ कठिन हो सकती हैं । 13 से 15 ता. भाग्योदय की योजना उत्साह जनक रहेगी । 16-17 ता. मन में डर व अशांति सी प्रभावित कर सकती है । 18 से 20 ता. कुछ स्वास्थ्य अथवा कर्ज संबंधी चिन्ताओं को छोड़कर समान्यतः अच्छी ही रहेंगी । 21-22 ता. व्यर्थ खर्च व एकाकीपन को हावी ना होने दें । 23 से 25 ता. कुछ प्रयास फलदायी हो सकते हैं। 26-27 ता. मिश्रित फलदायक हैं । 28-29 ता. उत्साह व ज्ञान काम आ सकता है । 30-31 ता. अपनी सोच व विचारों पर ध्यान दें ।
 
उपाय-- इस माह आप विष्णु भगवान की अराधना करें एवं ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय का नित्य जप करें। इसके साथ साथ गाय को हरा चारा खिलाएं।लाभ होगा |
=======================================================================
मीन राशि (Pisces) :– (दी, दू, थ, झ, ञा, दे, दो, चा, ची )
 
इस माह परिस्तिथियाँ प्रतिकूल रहेंगी, जिस कारण मानसिक उच्चाटन एवं धन संबंधी समस्याए बनी रहेगी। शत्रु पक्ष से हानि सम्भव। पारिवारिक विवाद में वृद्धि होगी। भूमि-भवन का लाभ होगा। गृह निर्माण कार्य प्रारम्भ होना सम्भव। उत्तरार्द्ध में लोकप्रियता में वृद्धि होगी, किन्तु ऋण प्रबन्धन की आवश्यकता पड़ेगी। घर में किसी सदस्य के स्वास्थ्य के कारण भी चिन्तित रहेंगे। मासांत में आय के नवीन स्त्रोत भी विकसित होंगे। कुल मिलाकर माह मिला जुला फल देकर जायेगा। उच्चाटन, शीत प्रकृति के रोग स्वास्थ्य को प्रभावित करेंगे। 
 
जनवरी माह की 6, 16, 24 एवम 25 तारीखे नेष्ट फलदायक है अत: सावधान रहना चाहिए।
 
1-2 ता. साथी व सफलता के प्रति उत्साहित रहेंगे । 3-4 ता. स्थिति उत्साह जनक व रोमांचकारी रहे परन्तु निवेश में सावधानी बरतें । 5-6 ता. विलासिता और आलस्य से बचें । 7-8 ता. बिगड़े काम बनाने पर जोर रहेगा । 9-10 ता. कर्ज, स्वास्थ्य अथवा विरोधियों की चिनता प्रभावित कर सकती है । 11-12 ता. संबंध, प्रस्ताव व चर्चाऐं उत्साहित करेंगी । 13 से 15 ता. सुख अथवा सहयोग का अभाव महसूस हो सकता है । 16-17 ता. निराशा अथवा हीनता प्रभावित कर सकती है । 18 से 20 ता. बिगड़े काम बनाने पर जोर रहेगा । 21-22 ता. जल्द कोई वादा ना करें। 23 से 25 ता. विरोध व अवरोध प्रभावित कर सकते हैं । व्यय पर भी अंकुश रखें । 26-27 ता. शंका अथवा चिन्ता बनी रहेगी । 28-29 ता. क्रोध और निवेश से बचें । 30-31 ता. समान्यतः स्थिति संतोष जनक ही रहेगी ।
 
उपाय-- इस माह आप शिवजी की अराधना करें एवम ऊँ नम: शिवाय का नित्य जप करें। भगवान् शिव का रुद्राभिषेक लाभदाई होगा | इसके अलावा किसी जरूरतमंद /गरीब को काले कम्बल या उडद की दाल का दान करना शुभ रहेगा।
=============================================================
तो प्रिय पाठकों/मित्रों/दर्शकों, आशा है, इस जनवरी 2018 माह के राशिफ़ल के माध्यम से आप अपने अच्छे और बुरे समय को जानकर उस समय उचित व्यवहार कर इस वर्ष के शुरुआती माह यानी जनवरी को शुभ बनाएंगें।

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

SRINAGAR: Hurriyat (G) Chairman Syed Ali Geelani has expressed his dismay over allowing movie theatres in Saudi Arabia, saying that, The Messenger of Allah (peace and blessings of Allah be upon him) started his pious mission from this sacred land against infidels and polytheism and purified this land from all evils. Geelani in a statement to Kashmir News Bureau said that opening movie theatres is un-Islamic move and against the norms of Islam and particularly keeping in view the sanctity of these places, the move is quite disheartening and unacceptable. Cautioning about the consequences of this move, Geelani said that rulers in Saudi Arabia being the custodian of Holy places like Madeena and Mecca, need to take care and however it is quite unfortunate that present ruling elite are allowing and promoting same obscene culture ,which Islam has prohibited. 

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

SRINAGAR: Scores of religious scholars and Imams of various mosques held a symbolic protest at press colony in Srinagar against the US’s decision of declaration of Jerusalem as Israel’s’ capital. The protesters carried placards and banners seeking revocation of US decision and intervention of the international community. They chanted slogans against the US president Donald Trump, America and Israel. They carried banners with slogans “Down with Trump” and “Jerusalem an eternal capital of Palestine” and “Long Live Palestine! Long Live Islam”.
 
“We are here not to denounce Trump’s statement but to discard it and request international community to step in and try to resolve the conflict” said one of the angry protestor. US president’s announcement declaring the historic city as Israel’s capital has provoked condemnation from different parts of the world especially the Muslim world.
 
Several countries, including Russia and Saudi Arabia, have slammed Trump’s decision, saying that this is a matter that needs to be resolved between Israel and Palestine. The larger consensus emerging in responses to the Trump decision suggest that the future of Jerusalem should have been the outcome of a negotiation process, rather than a decision made by one country.
 
The decision has already triggered unrest in the occupied territories. The United Nations has summoned a special session of the world body on Friday. The decision was taken by the eight of the 15 members of the UN Security Council. The UN special envoy to the Middle East, Nickolay Mladenov, spoke to the Security Council through video-conferencing and sounded the alarm about the recent decision. He warned of the “potential risk of violent escalation” that exists following that decision and asked that all parties choose dialogue and avoid provocations. The world response has literally isolated the US, considered to be world’s most powerful democracy.